Ramzan me kitne ashre hote hai?

Must read

रमज़ान के 30 दिनों को अशरों मे बांटा गया है, और ये अशरे बड़े अहम किरदार निभाते हैं रमजान मे ज्यादा से ज्यादा सवाब दिलाने मे; इसलिए हमारा यह फर्ज बन जाता है कि हम ramzan me kitne ashre hote hai जाने. इसलिए हम आज इसी टॉपिक पर बात करने वाले हैं ताकि हमें भी रमजान में ज्यादा से ज्यादा सवाब, बरकत, मगफिरत जैसी नायाब चीज़ें मिल सकें अल्लाह के दरबार से. 

तो चलिए पहले ये जान लें कि ashra kya hota hai? 

Ashra kya hota hai?

अरबी गिनती मे अशरा का मतलब होता 10, यानी कि महीने के दशवें दिन को अशरा कहते हैं, ऐसे रमजान के 1-10 तारिख मे 1 अशरा होता है, 11-20 तक दूसरा अशरा और 22-30 तक तीसरा अशरा; रमजान मे ये तीन अशरे होते हैं जिन्हें इस तरह बांटा गया है पूरे रमजान के एक महीने मे जिनके अलग-अलग मतलब और फायदे होते हैं. 

इस तरह हमे इस सवाल Ramzan me kitne ashre hote hai का जवाब मिल जाता है, कि रमजान मे कुल 3 अशरे होते हैं.

आइए अब जानते हैं कि ramzan ke kaun kaun se ashre hote hain

Ramzan ke kaun kaun se ashre hote hain (Ramzan me kitne ashre hote hai) 

जैसा मैंने आपको ऊपर बताया कि रमजान में कुल 3 अशरे होते हैं, जो रमजान के 1 महीने के 30 दिनों के 3 टुकड़ों में बंटे हैं, 10-10-10 दिनों के हिसाब से जिससे हमे ramzan ke 3 ashre मिले हैं.

आपको बता दें कि रमजान के तीनों अशरे के अलग-अलग मतलब, फायदे, और नाम हैं. जिसमें हम अल्लाह की इबादत करके उसे राज़ी करते हैं और उन फायदों को पाते हैं, इससे हमारे रमजान को पाने का मक़सद पूरा हो जाता है.

तो दोस्तों आपको बता दें कि रमजान के पहले अशरे (1-10 रमज़ान) को रहमत का अशरा कहते हैं, दूसरे अशरे (11-20 रमज़ान) को मगफिरत का अशरा कहते हैं जिसमें अल्लाह हमने हमारे गुनाहों की माफ़ी देता है और नेक हिदायत और तीसरा अशरा जहन्नुम की आग से खुदको बचने का होता है इसमे हम अल्लाह की इबादत करके खुद को जहन्नुम और उसकी आग से बचा लेते हैं.

आइए आपको ramzan ke ashre ke fayde भी बता देते हैं… 

Read more:-

Ramzan ke ashre ke fayde

आइए आपको तीनों अशरों के फायदे एक-एक करके बता देते हैं और उन फायदों की कैसे पाना है ये भी बताएंगे, तो हमारे साथ बने रहें…. 

शुरू करते हैं पहले अशरे से यानी रहमत के अशरे से… 

Ramzan ke pehle ashre ke fayde

Ramzan ke pehle ashre ke fayde मे सबसे बड़ा फायदा तो यही है कि आपको दस दिन मिले हैं अल्लाह को राजी करने के लिए ताकि वो आपपर अपनी रहमत बनाए रखे, जैसा कि इस अशरे का नाम है रहमत का अशरा

इसलिए अगर आप पहले अशरे में रोज़ा, नमाज और बाकी की इबादत और सुन्नतें करते हैं तो अल्लाह की रहमत आपपर बनी रहेगी और आप हर चीज में अव्वल, कामयाब और हर रहमत के हक़दार हो जाएंगे. 

यहां जाने रमजान की सुन्नतें (ramzan me kya karna chahiye – ramzan ki sunnatein)

Ramzan ke doosre ashre ke fayde

Ramzan ke doosre ashre ke fayde बहुत ही जरूरी है हर मुस्लमान के लिए जो अल्लाह की बारगाह से जन्नत पाना चाहता, हर गुनाहों से माफी पाकर. ऐसा इसलिए क्यूंकि दूसरा अशरा मगफिरत का होता है, इस अशरे (11-20) में अल्लाह उस बंदे को माफ कर देता है जिसने अल्लाह की इबादत करके माफ़ी की दुआ की हो. 

इस अशरे मे अल्लाह माफी मांगने वाले बन्दों को जल्दी माफ़ कर देता है दूसरे महीने या दिनों के मवाज़ना (तुलना) मे, क्यूंकि रमज़ान बेहद ही पाक और रहमत वाला महीना है. जितने भी गुनाह हुए हैं तौबा कर लें. 

Ramzan ke teesre ashre ke fayde

रमज़ान के तीसरे अशरे में जहन्नुम की आग से निजात मिलती है, इस अशरे मे अल्लाह उस बंदे को माफ़ कर देता है और जहन्नुम की आग से निजात दे देता है जो बाकी के दोनों अशरों के फायदे पा चुका है. 

इसलिए आप तीसरे अशरे मे गलती से भी तिलावत, इबादत, जकात, गुनाहों का तौबा, और जहन्नम की आग से बचने की दुआ के साथ-साथ अच्छे आमाल के तौफिक की दुआ करनी चाहिए. इनमे से जहन्नम की आग से बचने की दुआ माँगना ज्यादा जरूरी है, और रमजान के पाक महीने मे अल्लाह अपने नेक बन्दे की हर दुआ कबूलता है तो ये दुआ भी जरूर कबूल कर लेगा.

Read more:-

आज आपने क्या सीखा?

तो दोस्तों आज की इस post मे हमने जाना कि ramzan me kitne ashre hote hai और इसकी पूरी जानकारी आप तक पहुंचाने की कोशिश की है; जिससे आपको सही का अंदाजा हो जाए और आपको कोई कन्फ्यूजन ना रहा है Ramzan ke ashre को लेकर. 

Ramzan me kitne ashre hote hai के साथ-साथ नीचे लिखे चीज़ों पर भी गौर से बात की…. 

  • Ashra kya hota hai?
  • Ramzan ke kaun kaun se ashre hote hain
  • Ramzan me kitne ashre hote hai 
  • Ramzan ke ashre ke fayde
  • और भी कई सारे…. 

तो हम उम्मीद करते हैं कि आपको हमारी आज की यह पोस्ट पसंद आई होगी और कुछ नया सीखने को मिला होगा इस्लाम और रमज़ान के अशरे के बरे मे; अगर हाँ, तो इसे अपने दोस्तों और परिवार के साथ जरूर SHARE करें ताकि उन्हें भी पता चल सके कि Ramzan me kitne ashre hote hain? और Ramzan me ashre ke fayde kya hai? 

और साथ ही साथ हमरे इस WEBSITE को BOOKMARK कर ले ताकि आप सभी को इस्लाम से related ऐसी ही POST मिलती रहे…. 

quransays.in

- Advertisement -spot_img

More articles

Leave A Reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -spot_img

Latest article