Naukri me barkat ki dua kya hai?

Naukri me barkat ki dua kya hai? ये जानने से आपको जल्दी नौकरी मिल जाएगी और अगर नौकरी मे बरकत भी आएगी; आपको दुआ मंगनी है अल्लाह से अपने तरक्की और बरकत के लिए इस दुआ के जरिए. 

एक बात और ये जो दुआ है कोई आम दुआ नहीं है, ये दुआ हजरत-मूसा-अलैहिस्सलाम की है; जो उन्होंने अल्लाह से बरकत के लिए की थी, और उनकी दुआ पूरी हुई थी. और ये दुआ कुरान मे दी हुई है; यानी इसपर हमे यकीनन यकीन करना होगा और अल्लाह से दुआ मंगनी होगी, इस दुआ को पढ़कर.

और मैं आपको ये बताना चाहता हूँ कि इस दुआ का जिक्र कुरान मे हुआ है जिसे खुद एक आला नबी ने पढ़ी थी; और उनकी दुआ कबूल हुई थी, यानी कि हमे हर वो चीज के लिए अल्लाह से दुआ मंगनी चाहिए जिसे हम पाना चाहते हैं; लेकिन कुछ लोग मानते हैं कि अल्लाह से दुआ नहीं मंगनी चाहिए (नाउज़ुबिल्लाह), ये सब गलत है सिर्फ अल्लाह ही है जो हमें हर चीज दे सकता है, इसलिए हमे उससे दुआ करनी चाहिए. 

तो चलिए naukri ki dua from quran या naukri me barkat ki dua from quran musa [A.S] जानने से पहले; मूसा अलैहिस्सलाम ने जो ये दुआ पढ़ी थी उसकी वाक्या जान लेते हैं.

ये भी पढ़ें:-

Hazrat musa alaihissalam ki naukri ki dua ka waqya

तो दोस्तों जब मूसा अलैहिस्सलाम दूसरी जगह पर गए थे तब उनके पास कुछ नहीं था; ना कुछ खाने को और ना ही कुछ पीने को, और उनकी हालत बहुत खराब थी. लेकिन उन्होंने हार ना मानी और अल्लाह पर अटूट इमान रखा रहा. 

और अपने अल्लाह से दुआ मांगी (जिसे हम आगे जानने वाले हैं) और अल्लाह ने उनपर रहम किया और उनकी दुआ सुन ली; और उनको नौकरी दे दी, जिसके बाद वह सब कुछ करने लगे,अच्छी जिंदगी जीने लगे.

से हमें यह पता चलता है कि हमें कभी भी अपने ईमान को डगमगाने नहीं देना चाहिए, अल्लाह पर भरोसा और ईमान चाहिए; क्योंकि अल्लाह जो भी देगा सबसे बेहतर देगा, लेकिन हमें उसके लिए अल्लाह से दुआ करनी होगी सच्चे दिल से; तब ही हमे वो सबसे बेहतर अंजाम मिलेगा जिसके हम हकदार हैं, जैसे मूसा अलैहिस्सलाम को मिला. 

चलिए अब हम naukri mein barkat ki dua जान लेते हैं जिसे हजरत-मूसा-अलैहिस्सलाम ने खुद अपने जुबान-ए-पाक से रिहा किया था, जिसके बाद उन्हें नौकरी मिल गई. 

Naukri me barkat ki dua

देखिए, नौकरी एक ऐसी चीज है जिसके लिए आपको खुद से मेहनत करनी होगी जिसके बाद आप उस नौकरी के काबिल बन जाएंगे; या अगर आप नौकरी मे हैं तो आपको ज्यादा से ज्यादा काम करना होगा rozi me barkat ke liye जिसके बाद आपको खुशी होगी कि आपकी नौकरी मे बरकत हो गई और आप हर चीज से खुश है जैसे घर, बीवी-बच्चों, और पैसे से. 

और हाँ, जैसा कि मैंने बोला naukri me barkat ki dua ही अकेले काम नहीं आएगी बरकत, कामयाबी और तरक्की करने के लिए; आपको मेहनत करनी होगी जिससे आप सबसे बेहतर बन सके उस नौकरी के लिए जिसे आप पाना चाहते हैं….

और इसके साथ-साथ आपको दूसरी चीज़ें भी हैं करनी होंगी, यहां जानें barkat ke liye kya kare?

ये भी पढ़ें:-

#1. Naukri me barkat ki dua in arabic text (arbi)

Naukri me barkat ki dua in arabic text (arbi) ये है:- {رَبِّ إِنِّي لِمَا أَنْزَلْتَ إِلَيَّ مِنْ خَيْرٍ فَقِيرٌ}

उपर लिखी दुआ ही naukri ki dua from quran और naukri me barkat ki dua है; इसी दुआ को मूसा-अलैहिस्सलाम ने पढ़ा अपने मुह से. आप इसे जरूर पढ़ें. 

आप इस दुआ को हर फर्ज नमाज के बाद पढ़ सकते हैं, और जुमा (Friday) के दिन तो इसे जरूर पढ़ें, उस दिन यह काफी अफजल है; और अगर बात करें कि कितनी बार पढ़ना है तो; ज्यादा से ज्यादा पढ़ें जब तक आपको संतुष्टि ना मिल जाए. 

#2. Naukri me barkat ki dua in hindi text

Naukri me barkat ki dua in hindi text ये है:- {रब्बी इन्नी लीमा अंजलता इलैया मिन खैरिन फकीरुन} 

अगर आपको अभी पढ़ने नहीं आती तो जल्द से जल्द सीख ले, फिलहाल के लिए हमने; Naukri me barkat ki dua in hindi lyrics उपर दे दिया है.. आप उसे यादकर पढ़ते रहें. 

#3. Nokri me barkat ki dua in hindi meaning (tarjuma)

Naukri me barkat ki dua in hindi meaning (tarjuma) ये है:- {ऐ मेरे रब जो भी नेमत तू मेरे लिए उतरे मैं उस का मुहताज हूं}

अगर आप हमारे पुराने visitors है तो, हम हमेशा ही आपसे कहते हैं कि हम जो भी दुआ पढ़ते हैं; हमें उसका तर्जुमा मालूम होना चाहिए, ताकि हमें यह पता चल सके कि हम जो दुआ पढ़ रहे हैं उसका मतलब क्या है. 

ये भी पढ़ें:-

#4. Naukri mein barkat ki dua in english text

Naukri me barkat ki dua in english text ये है:- {RABBI INNI LIMA ANZALTA ILAYYA MIN a FAQIRUN}

और दोस्तों यह है, Naukri mein barkat ki dua in english text, उन लोगों के लिए जो अरबी और हिंदी नहीं पढ़ सकते…. 

तो दोस्तों यह थी हमारी आज की जानकारी से भरी पोस्ट जिसमें हमने Nokri mein barkat ki dua (musa alaihissalam ki naukri ki dua from quran) सीखा; और मैं उम्मीद करता हूं कि आपको भी यह पोस्ट पसंद आई होगी, अगर हां, तो इस पोस्ट को अपने दोस्तों और घरवालों के साथ जरूर SHARE करें. 

और हमारे इस WEBSITE को BOOKMARK कर ले ताकि आप सभी को रोजाना ऐसी ही; इस्लाम से भरी जानकारी मिलती रहे वो भी बिल्कुल सही और मुफ्त में. 

quransays.in

Leave a Comment