Muharram ka roza rakhna kaisa hai? – मुहर्रम का रोज़ा रखना कैसा है

Muharram ka roza rakhna kaisa hai? ये सवाल बहुत से लोगों के मन मे आता होगा और आज की इस post में हम आपके हर सवाल का ज़वाब दे देंगे मुहर्रम के रोज़े से जुड़े. इसलिए इस आर्टिकल में हमारे साथ आखिर तक बने रहें……

तो चलिए आपके सवाल जो Muharram ka roza rakhna kaisa hai? से जुड़े हैं उनका एक-एक करके ज़वाब देते हैं. आपके जरिए पूछे गए सवाल नीचे लिखे हुए हैं, जिसका ज़वाब हम आपको देने जा रहे हैं.

  • Muharram ka roza rakhna kaisa hai?
  • Kya muharram ka roza rakhna farz hai? 
  • Muharram me kitna roza rakh sakte hai?
  • Muharram ka roza rakhne ka tarika kya hai?
  • Muharram ka roza kiske liye rakhte hai?
  • Muharram ka roza rakhne ki hadees kya hai?
  • 10 muharram (ashura) ka roza rakhna kaisa hai?
  • और भी कई सारी चीज़ें…. 

शुरू करते है पहले सवाल से Muharram ka roza rakhna kaisa hai?

ये भी पढ़ें:- मुहर्रम की जानकारी

Q1. Muharram ka roza rakhna kaisa hai?

Muharram ka roza rakhna kaisa hai? तो इसका ज़वाब है, बिल्कुल सही है और रखना भी चाहिए. मुहर्रम में जितना ज्यादा हो सके उतना रोज़ा रखने की कोशिश करनी चाहिए. इसका ढेर सारा अजर-ओ-सवाब मिलता है. हमसे जितना ज्यादा हो सके उतना नफिल रोज़ा रखना है पूरे मुहर्रम के महीने में.

Q2. Kya muharram ka roza rakhna farz hai?

जी नहीं मुहर्रम का रोज़ा रखना फर्ज नहीं है रमजान के रोज़े की तरह. लेकिन प्यारे आका ने कहा है कि अशुरा का रोज़ा तुम्हें गुनाहों से दूर रखता है, इसलिए हमें मुहर्रम का रोज़ा रखना चाहिए. अगर ज्यादा रोज़ा नहीं रख पाते तो कम से कम 10 मुहर्रम यानी अशुरा का रोज़ा और 9 मुहर्रम का रोज़ा जरूर रखें.

Q3. Muharram me kitna roza rakh sakte hai?

आपसे जितना ज्यादा हो सके आपको उतना रोज़ा रखना हैं मुहर्रम के पूरे महीने में. 

वैसे अगर बात करें हदीसों की तो प्यारे नबी सल्लल्लाहू अलैही वसल्लम ने मोहर्रम में ज्यादा रोज़े नहीं रखे लेकिन 10 मोहर्रम यानि अशुरा का रोजा जरूर रखते थे. और वो इस रोज़े को रखने के लिए बहुत बेताब रहते थे, एक सहाबा ने बताया कि अशुरा का रोज़ा पैगंबर के लिए रमजान था. और इसी के साथ-साथ पैगंबर ने ये भी कहा कि अशुरा का रोज़ा तुम्हें गुनाहों से दूर रखता है तो हमें मुहर्रम मे ज्यादा से ज्यादा रोज़ा रखना चाहिए.

ये भी पढ़ें:-

Q4. Muharram ka roza rakhne ka tarika kya hai?

मोहर्रम का रोजा रखने का तरीका बहुत ही आसान है, आपको बस नफल रोजे रखने हैं मोहर्रम के महीने में. आप जितना चाहे उतना रोज़ा रख सकते हैं पूरे मुहर्रम के महीने में. खासकर एक बात का ध्यान दें कि 10 मुहर्रम का रोज़ा जरूर रखें क्यूंकि प्यारे नबी ने भी रखी थी मूसा अलैहिस्सलाम के एहतराम में तो आप भी जरूर रखें. यहां जाने muharram ka roza rakhne ka poora aur sahi tarika

Q5. Muharram ka roza kiske liye rakhte hai?

बहुत से लोग मोहर्रम का रोजा इमाम हुसैन की मोहब्बत में और उनकी शहादत की याद में रखते हैं. बहुत से लोग इमाम हुसैन से इतना प्यार करते हैं कि उनके एहतेराम में मोहर्रम के रोजे रखते हैं. लेकिन प्यारे आका सल्लल्लाहो अलेही वसल्लम ने पूरे मोहर्रम रोजा नहीं रखा सिर्फ और सिर्फ 10 मुहर्रम यानी अशुरा का रोजा ही रखा और वह भी मूसा अलैहिस्सलाम के एतराम में.

Q6. Muharram ka roza rakhne ki hadees kya hai?

हदीसों में आया है कि प्यारे आका मुहर्रम में 10 मुहर्रम का रोज़ा रखते थे और सहाबा इकराम भी यह रोजा रखा करते थे 10 मुहर्रम और बाकी के दिनों में. और सहाबा इकराम दूसरों को भी मुहर्रम का रोज़ा रखने को कहते थें. इसलिए हमें भी मुहर्रम का रोज़ा रखना चाहिए और खासकर 10 मुहर्रम का क्यूंकि प्यारे आका भी रखा करते थे. 

प्यारे आका ने 10 मुहर्रम का रोज़ा मूसा अलेही सलाम के एहतराम में रखा था, यूँ कहें कि उनके सम्मान मे रखा था. और प्यारे नबी 10 मुहर्रम यानी अशुरा का रोज़ा रखने के लिए इतना उत्सुक रहते थे की सहाबा ने बताया कि अशुरा का रोज़ा आका के लिए रमजान जैसा था.

ये भी पढ़ें:-

Q7. 10 muharram (ashura) ka roza rakhna kaisa hai?

जैसा मैंने आपको ऊपर बताया कि 10 मुहर्रम यानी आशूरा का रोजा हमारे प्यारे आका-हजरत-मोहम्मद-मुस्तफा-सल्लल्लाहो-अलेही-वसल्लम रखा करते थे तो इसका मतलब हमें भी रखना है. इस दिन ज्यादातर लोग रोज़ा रखते हैं क्यूंकि इस दिन रोज़ा रखना प्यारे नबी की सुन्नत है.

उम्मीद करते हैं कि आपको हमारी आज की जानकारी से भरी यह पोस्ट पसंद आई होगी जिसमें हमने नीचे लिखी चीज़ों पर बात की….

  • Muharram ka roza rakhna kaisa hai?
  • Kya muharram ka roza rakhna farz hai? 
  • Muharram me kitna roza rakh sakte hai?
  • Muharram ka roza rakhne ka tarika kya hai?
  • Muharram ka roza kiske liye rakhte hai?
  • Muharram ka roza rakhne ki hadees kya hai?
  • 10 muharram (ashura) ka roja rakhna kaisa hai?

उम्मीद करते हैं, कि आपको आपके तमाम सवालों के जवाब मिल गए होंगे अगर हां, तो इस पोस्ट को अपने सोशल मीडिया जैसे फेसबुक, व्हाट्सएप और इंस्टाग्राम पर जरूर शेयर करें.

quransays.in

Leave a Comment