Muharram ka chand kab dikhega 2022

Muharram ka chand kab hai 2022 में ये तो जिलहज के आखरी दिन को मालूम पडेगा क्योंकि जिलहज इस्लामिक कलेंडर का आखरी महीना होता है, और इसके बाद ही मुहर्रम का महीना आता है.

इस्लाम में महीने की पुष्टि चांद देखने के बाद ही की जा सकती है. जब चांद दिख जाता है, तो उस रात से ही इस्लामिक महीने की 1 तारीख मानी जाती है.

इसलिए मुहर्रम का चांद कब दिखेगा यह आपको जिलहज के आखिरी दिन की शाम को पता चल जाएगा लेकिन पिछले कई सालों के ट्रेंड को देख कर हम यह अंदाजा लगा सकते हैं, कि 2022 में मोहर्रम का चांद कब दिखेगा.

Muharram ka chand kab dikhega - अगर 29 का चांद हुआ तो मुहर्रम का चांद 29 जुलाई को निकलेगा और 30 जुलाई को मोहर्रम की 1 तारीख होगी वहीं दूसरी तरफ अगर चांद 30 का हुआ तो 30 जुलाई को मोहर्रम का चांद निकलेगा और 31 जुलाई को मोहर्रम की 1 तारीख होगी.

Muharram ka chand 2022

Muharram ka chand अपने आप में ही बड़ी अहमियत रखता है, मोहर्रम की चांद रात बेहद ही बा बरकत होती है और चांद देखते ही मोहर्रम की 1 तारीख का ऐलान कर दिया जाता है.

इस्लाम में 4 महीने ऐसे हैं, जिनकी अहमियत और फजीलत बेशुमार है, जिसमें जिलहज का महीना और मोहर्रम का महीना शामिल है, और यह दोनों ही महीने लगातार आते हैं.

READ MORE…

Muharram ka chand kab dikhega 2022

Muharram ka chand kab dikhega 2022 mein पिछले 10 सालों के ट्रेंड के हिसाब से यह देखा जा सकता है, कि मोहर्रम की 1 तारीख हर साल 9-10 दिन पहले हो रही है .इस लिहाज से 2022 में मोहर्रम का चांद 30 जुलाई को दिखेगा और 31 जुलाई को मोहर्रम की 1 तारीख होगी.

READ MORE…

Muharram ka chand kab niklega 2022

Muharram ka chand kab niklega 2022 mein तो पिछले कई सालों के ट्रेंड को देखते हुए यह अनुमान लगाया जा रहा है कि 30 जुलाई 2022 की शाम को मोहर्रम का चांद निकलेगा.

दोस्तों इस्लाम में महीने की तारीख चांद पर निर्भर करती है, इस लिहाज से 2022 में मोहर्रम का चांद कब निकलेगा इसका सही और सटीक जवाब चांद निकलने के बाद ही दिया जा सकता है.

लेकिन पिछले सालों के ट्रेंड को देखें और इस्लामिक कैलेंडर को सही से समझें और मिलाएं तो यह माना जा रहा है, कि 2022 में मोहर्रम का चांद 30 जुलाई को ही दिखेगा.

Muharram ka chand dekhne ki dua

Muharram ka chand dekhne ki dua “अल्लाहुम्मा अहिल लहू अलैना बिल अमनि वल इमानि वस सलामति वल इस्लामि वत तौफीकि लिमा तुहिब्बु व तरज़ा रब्बी व रब्बुकल लाह” है, जिसे हमारे नबी हर नमा चांद देखने के बाद पढा करते थे.

चंद मसनून दुआएं। –

1 – खाना खाने से पहले और बाद की दुआ।

2 – पानी पीने से पहले और बाद की दुआ।

3 – रात को सोने से पहले की दुआ।

4 – सुबह उठने के बाद की दुआ।

5 – सिर दर्द की दुआ हिन्दी में।

आज आपने क्या जाना?

तो दोस्तों यह थी हमारी आज की पोस्ट आज हमने आपको muharram ka chand kab dikhega 2022 mein की सटीक जानकारी इस्लामी कैलेंडर के हिसाब से बताने की कोशिश की.

हमें उम्मीद है ! कि आपको यह जानकारी पसंद आई होगी आप से गुजारिश है, कि आप इस पोस्ट को अपने व्हाट्सएप, फेसबुक पर शेयर जरूर करें. ताकि तमाम मुसलमानों को muharram ka chand kab niklega की मुकम्मल और सही जानकारी हो सके.

अल्लाह हाफिज !!!

Quransays.in

Leave a Comment