Eid ki sunnatein kya hain?

Must read

Eid ki sunnatein kya hai? ये जानने के लिए इस article मे आखिर तक बने रहे, ये हम हमेशा नहीं कहते लेकिन ये article बहुत खास है; ईद इस्लाम का एक सबसे प्यारा और खुशियों वाला दिन है, जिस दिन हम सभी नमाज़ पढ़ते हैं, जकात अदा करते हैं, पाक साफ रहते हैं, सेवइयां खाते और बांटते हैं. 

और गरीबों में जकात अदा करने के अलावा भी कुछ और कामों को करते हैं, जिससे अल्लाह हमसे राजी हो जाए; और हमने ढेर सारा सवाब, रोजी, बरकत और हर उस चीज से नवाजे जिसके हम हकदार हैं.

दोस्तों, ये ईद का दिन बड़ा ही अफजल और बड़ा दिन है, जो कुछ अल्लाह से माँगना चाहते हो अपने रखे हुए रोज़े और प्यारे नबी सल्लल्लाहु-अलैहि-वसल्लम के सदके मे मांग लो. 

ईद के दिन कुछ ऐसे काम होते हैं, जिन्हें करने से अल्लाह बहुत खुश होता है, और हमें खूब सवाब देता है; यहां जानें (Eid ke din kya karna chahiye aur kya nahi) 

अल्लाह जरूर आपकी जायज दुआ कबूल करेगा, comment मे इसी बात पर आमीन जरूर लिखें….. 

तो दोस्तों, चलिए बिना किसी देरी के शुरू करते हैं, आज की जानकारी से भरी ये पोस्ट की eid ki sunnatein kya hai? 

Eid ki sunnatein kya hai?

जैसे ईद की नमाज वाजिब है, उसी तरह eid ki sunnatein भी हैं, जिसे हम ईद की सुन्नत कहते हैं, इसे करना जरूरी तो नहीं लेकिन प्यारे नबी सल्लल्लाहु-अलैहि-वसल्लम को वो इंसान बहुत पसंद हैै, जो उनकी सुन्नतों पर चलता है.

ऐसे मे हम प्यारे नबी की कही हुई सुन्नतों पर कैसे ना चलें, उसी तरह हम ईद की सुन्नतों पर भी चलेंगे और ज्यादा-से-ज्यादा सवाब पाएँगे. 

नीचे कुछ या यूं कहें कि लगभग सभी eid ki sunnatein लिखी हुई हैंं; आपसे गुजारिश है, कि इन्हें याद रखें और ईद के दिन जरूर करें……

Read more:-

Eid ki sunnatein ye hain

हमें ईद के मुबारक मौके पर नीचे लिखे हुए काम भी जरूर करने चाहिए, ये ईद की सुन्नतों में से एक हैं; या यूं कहें कि लगभग पूरी सुन्नतें हैं, जिसे आप लोगों को ईद के दिन करना है. 

  • सुबह जल्दी उठकर नहाएं-धूलायं, गुसल करें, और पाक होकर फज्र की नमाज अदा करें. 
  • मिसवाक, और गुसल करे बगैर ईद की नमाज को ना जायें, इन्हें जरूर करें. 
  • ईद की नमाज के लिए कपड़े, चप्पल, इत्र, टोपी वगैरा तैय्यार रखें और नमाज को जाते वक्त इन्हें पहने. ईद की नमाज को जाते वक्त इन्हें जरूर पहने. 
  • नए या पुराने लेकिन पाक और अच्छे कपड़े पहने ईद के दिन, और नमाज के लिए कुर्ता भी पहने, वही नमाज का सही लिबास है. 
  • ईद की नमाज को निकलते वक्त कुछ न कुछ खा ले, खजूर को खाना सुन्नत माना जाता है, ईद की नमाज पढ़ने को निकलने से पहले; खली पेट ईद की नमाज न पढ़ें, क्योंकि ईद के दिन रोजा रखना या खली पेट रहना मना है.
  • ईद की नमाज से पहले जकात-अल-फितर जरूर अदा करें, बिना जकात दिए ईद की नमाज नहीं मनाएगी और आपको जकात का स्वाब भी नहीं मिलेगा. 
  • ईदगाह या मस्जिद में जल्दी पहुँचिये और नमाज पूरी होने के बाद ख़ुत्बाह भी पूरा सुनिये और उस पर यकीन कीजिए.
  • जिस रास्ते से ईदगाह या मस्जिद गए थे उस रास्ते से वापस घर ना आए, दूसरे रास्ते से आए; प्यारे नबी सल्लल्लाहू-अलेही-वसल्लम की यह बहुत बड़ी सुन्नत है.
  • हो सके तो ईदगाह या खुले मैदान में ही ईद की नमाज अदा करें लेकिन बर्फ, बारिश या ठंड में नहीं; अगर जगह की कमी है, तो मस्जिद में भी पढ़ सकते हैं, ईद-अल-फितर की नमाज.
  • कभी भी मस्जिद में दुनियावी बातें ना करें, चुपचाप बैठे रहे.
  • मस्जिद के बाहर बैठे गरीबों की भी मदद करें, वहां से उनकी मदद किए बिना ना जाए. 
  • इमाम को ईदी भी दे सकते हैं.
  • ईद की नमाज को जाते वक्त आपको नीचे लिखी हुई तकबीर पढ़नी है.

Eid ke din masjid jate waqt ki takbeer:- “अल्लाहू अकबर अल्लाहू अकबर, ला इलाहा इलल्लाह, अल्लाहू अकबर अल्लाहू अकबर, वलिल्लाहिहम्द”

इसका तर्जुमा कुछ इस तरह है “अल्लाह बड़ा है, अल्लाह बड़ा है, अल्लाह के सिवा कोई इबादत के लायक नहीं, अल्लाह बड़ा है अल्लाह बड़ा है, सारी तारीफें अल्लाह ही के लिए हैं” 

तो दोस्तों यह थी Eid ki sunnatein, उम्मीद करता हूं कि आपको हमारी आज की यह पोस्ट पसंद आई होगी और कुछ नया सीखने को मिला होगा इस्लाम और ईद-अल-फितर से related; हमने इस पोस्ट में ईद की सुन्नतों से जुड़ी सभी बातें आपके सामने पेश की हैं, और आपको आसानी से समझाने की कोशिश की है.

अगर आपको हमारी आज कि यह पोस्ट पसंद आई हो तो इसे अपने दोस्तों और घरवालों के साथ जरूर SHARE करें और हमारे इस वेबसाइट को BOOKMARK कर ले; ताकि आप सभी को इस्लाम और ईद से जुड़ी सही जानकारी से भरी POST मिलते रहे.

Read more:-

quransays.in

- Advertisement -spot_img

More articles

Leave A Reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -spot_img

Latest article