Bakrid Ki Fazilat In Hindi – Bakrid Ke Din Ki Fazilat In Hindi – बकरीद फजीलत

Bakrid ki fazilat in hindi पोस्ट पढ़ने के बाद आप इस रहमत, बरकत और कुर्बानी वाले दिन की फजीलतों और अहमियतों को समझ जाएंगे और bakrid ke din ki fazilat को हासिल कर सकेंगे.

हदीसों में आया है, रसूल अल्लाह सल्लल्लाहो अलेही वसल्लम ने फरमाया अल्लाह तबारक व तआला को बकरीद के दिन कुर्ब करना बेहद ही मेहबूब और पसंद है.

इस एक हदीस और दो लाइनों से आपको बकरीद की अहमियत और ओहदे का अंदाजा लग गया होगा आइए अब हम bakrid ke fayde aur fazilat को हदीस की रौशनी में जानने की कोशिश करते हैं.

Bakrid ki fazilat

Bakrid ki fazilat में सबसे बड़ी फजीलत यह है, कि जो शख्स अल्लाह की रज़ा और नेक नियत से कुरबानी करता है, तो सवाब उसे दुनिया और आखिरत दोनों में मिलता है, और उसके तमाम गुनाह माफ हो जाते हैं.

आपको बता दें कुरबानी करने से सगीरा गुनाह ही माफ होते हैं, कबीरा यानी बडे गुनाह सिर्फ तौबा से ही माफ होते हैं.

Bakrid ki fazilat in hindi

Bakrid ki fazilat in hindi mein यह है कि इस दिन कुरबानी करना अल्लाह को पसंद है; और कुरबानी करने का सवाब यह है, कि जानवर का खून जमीन पर गिरने से पहले उसके तमाम गुनाह माफ हो जाना.

रसूल अल्लाह सल्लल्लाहो अलेही वसल्लम ने फरमाया अल्लाह उसकी राह में और रज़ा के लिए कुरबानी करने वाले लोगों को कुरबानी के जानवर के हर एक बाल पर एक नेकियां अता करेगा.

कुरबानी का बयान जरूर पढें। –

Bakrid ki fazilat aur ahmiyat

अल्लाह bakrid ki fazilat और उसकी अहमियत के ताअलुक से इरशाद फरमाता है –

ولكل أمة جعلنا منسكا ليذكروا أسم الله على ما رزقهم من بهيمة الأنعم

जिसका तरजुमा यह है – और हर उम्मत के लिए हमने क़ुरबानी के तरीक़े मुकर्रर फरमाए हैं; ताके वह उन चौपाये (चार पैरों वाले) जानवरों पर अल्लाह का नाम लें जो अल्लाह ने उन्हें दे रखे हैं।

कुछ सवालों के जवाब। –

Bakrid ke din ki fazilat in hindi

Bakrid ke din ki fazilat in hindi में बहुत सारी हैं, जिसमें अल्लाह की रज़ा हासील होना, गुनाह माफ हो जाना, ढेरों नेकियां मिलना, खूब अज़र ओ सवाब मिलना शामिल है.

बकरीद जिलहिज्जा मुबारक महीने में मनाई जाती है, और यह महीना अल्लाह को आम महीनों से ज्यादा महबूब है; और बकरीद इसी महीने की 10वीं तारीख को आती है, जिस दिन कुरबानी की जाती है, और अल्लाह को यह दिन आम दिनों के मुकाबले ज्यादा अफजल और पसंद है.

आइए अब हम चंद और bakrid ki fazilatein जान लेते हैं; जिससे हमें इस मुबारक दिन की फजीलत और अच्छे से समझ में आए.

ये भी पढें। –

Bakrid ki fazilat hindi me

  • बहुत अज़र ओ सवाब मिलना।
  • अल्लाह का राज़ी होना।
  • सगीरा गुनाह माफ होना।
  • सुन्नत अदा करने का सवाब।
  • रहमत और बरकत हासिल होना।
  • बकरीद वाले दिन कुरबानी करना सबसे बडा अमल है।
  • कुरबानी के जानवर के हर एक बाल पर एक नेकी मिलना।
  • अल्लाह उसके रज़ा के लिए कुर्बानी करने वालों को पसंद करता है।

आज आपने क्या जाना?

कुर्बानी करना इस्लाम में सबसे बड़ी इबादत है, और कुर्बानी जिलहज के मुबारक महीने में बकरीद के दिन अदा की जाती है; जिसको अल्लाह बेहद ही ज्यादा पसंद करता है.

आज हमने आप को बकरीद की फजीलत और उसकी अहमियत हदीस की रोशनी में बताने की कोशिश की उम्मीद है; आपको यह पोस्ट अच्छी लगी होगी.

आप से गुजारिश है ! कि आप इस पोस्ट को अपने व्हाट्सएप, फेसबुक पर पर शेयर जरूर करें अल्लाह हाफिज !!!

Quransays.in

Leave a Comment